वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स के क्षेत्र में निवेश की अपार संभावनाएं- सिद्धार्थ नाथ सिंह

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
 लखनऊ 23 जनवरी। उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, निर्यात एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि प्रदेश में वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स के क्षेत्र में निवेश की अपार संभावनाएं हैं। इसे बेहतर तरीके से जमीन पर उतारने के लिए पूर्व प्रचलित नीति को और अधिक व्यवहारिक बनाने के लिए इसमें आवश्यक संशोधन भी कराया जायेगा, इससे इस क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा निवेश होगा और राज्य में औद्योगिकरण को विशेष बल मिलेगा। उन्होंने अधिकारियों को 15 दिन के अंदर वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स से संबंधित प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
      श्री सिंह आज अपने कार्यालय कक्ष में वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स क्षेत्र में निवेश की सम्भावनाओं के संबंध में बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उ0प्र0 वेयर हाउसिंग नीति-2018 के तहत वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स पार्क की आवश्यताअनुसार अवस्थापना सुविधाओं को मजूबत बनाया जायेगा। लीडा द्वारा वेयरहाउसिंग एवं लाॅजिस्टिक्स के लिए महायोजना-2031 स्वीकृत किया गया है। इस प्लान को भारत सरकार की अर्बन डेवलेपमेंट प्लान फारमुलेशन एवं इम्पलीमेंटशन की गाइड लाइन के तहत तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि उद्यमियों के सुझावों को प्राथमिकता देते हुए नीति में आवश्यक संशोधन कराये जायेंगे।  
      एम0एस0एम0ई मत्री ने नोएडा में स्थापित होने वाले हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग पार्क के निर्माण में तेजी लाने के लिए अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने सोसाइटी आफ नोएडा अपैरल कलस्टर के प्रस्ताव पर चर्चा करते हुए निर्देश दिए कि इस क्लस्टर से जुड़े उद्यमियों की समस्याओं का जल्द से जल्द निराकरण कराया जाय। बैठक में अपैरल पार्क के स्टालमेंट से संबंधित समस्याओं को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 03 वर्ष में अधिकांश इकाईयों द्वारा काॅमर्शियल प्रोडक्शन शुरू कर दिये जाने की सम्भावना है। कामर्शियल प्रोडक्शन शुरू करते ही इकाइयांे को भूमि मूल्य प्रतिपूर्ति देने का प्राविधान किया जायेगा।
      बैठक में औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टण्डन, प्रमुख सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डा0 नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार सहित यीडा व लीडा के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।- अमित यादव