मूल्य समर्थन योजनान्तर्गत अब तक 42.20 लाख मी0टन धान 5,03,783 किसानों से क्रय - खाद्य आयुक्त
वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ। खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में मूल्य समर्थन योजनान्तर्गत अबतक 50 लाख मी0टन लक्ष्य के सापेक्ष 3799 क्रय केन्द्रो के माध्यम से 42.20 लाख मी0टन धान 5,03,783 किसानों से क्रय किया, जो लक्ष्य का 84.40 प्रतिशत है। 

यह जानकारी खाद्य आयुक्त मनीष चैहान ने दी। उन्होंने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में धान क्रय लक्ष्य 16,67,900 मी0टन के सापेक्ष 19.00 लाख मी0टन धान क्रय किया जा चुका है, जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में लक्ष्य 33,32,100 मी0टन के सापेक्ष अबतक 23.20 लाख मी0टन धान खरीद की जा चुकी है। धान का समर्थन मूल्य धान काॅमन हेतु रू0 1815 एवं धान ग्रेड ए हेतु रू0 1835 प्रति कुन्तल निर्धारित है। राज्य सरकार द्वारा उतराई, छनाई एवं सफाई के मद में रू0 20 प्रति कुन्तल का अतिरिक्त भुगतान तथा हाईब्रिड धान हेतु रिकवरी में 03 प्रतिशत की छूट दी गयी है। विगत 07 वर्षाें में धान क्रय के आॅकडे़ इस प्रकार रहे:- खरीफ विपणन वर्ष 2012-13 में 17.79 लाख मी0टन, वर्ष 2013-14 में 9.06 लाख मी0टन, वर्ष 2014-15 में 18.18 लाख मी0टन, वर्ष 2015-16 में 43.43 लाख मी0टन, वर्ष 2016-17 में 35.14 लाख मी0टन, वर्ष 2017-18 में 42.90 लाख मी0टन, वर्ष 2018-19 में 48.25 लाख मी0टन है। 

श्री चैहान ने बताया कि अबतक धान विक्रय हेतु 8,34,000 किसानों द्वारा पंजीकरण कराया गया है। किसानों के पंजीकरण को आॅनलाइन राजस्व अभिलेखों से लिंक कर धान खरीद में पारदर्शिता लायी गयी। कृषकों को भुगतान की पारदर्शी व्यवस्था हेतु प्रथमतः खाद्य विभाग द्वारा एंव दिनंाक 30.12.2019 से समस्त एजेन्सियों इस वर्ष भारत सरकार के पी0एफ0एम0एस0 के पोर्टल के माध्यम से भुगतान अनिवार्य कर दिया गया है। खाद्य विभाग द्वारा पी0एफ0एम0एस0 पोर्टल के माध्यम से अबतक 122004 किसानों को रू0 1844 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है। सम्पूर्ण प्रदेश में अबतक 4,25,000 किसानों को रू0 7118 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है। इस वर्ष गतवर्षों में की गयी धान खरीद से अधिक धान खरीद किये जाने की सम्भावना है।- सतीश चन्द्र भारती/ आशिया खातून