देश के विकास में सरकारी क्षेत्र के बैंकों का बड़ा योगदान- ब्रजेश पाठक


वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी) अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 05 जनवरी। उत्तर प्रदेश के विधायी एवं न्याय, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग मंत्री श्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि देश के विकास में सरकारी क्षेत्र के बैंकों का बड़ा योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि जनधन खाते खोलने में बैंक कर्मियों ने अथक परिश्रम किया है। उनकी भूमिका की सराहना की जाती है। 



श्री पाठक आज इन्दिरा नगर स्थित होटल बंधन में आर्यावर्त बैंक आॅफिसर्स एसोसिएशन की 36वीं वर्षगांठ पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि धान/गेहूं क्रय केन्द्रों पर किसानों को साइबर कैफे में जाकर जो रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है, उसे सब किसान कर भी नहीं पाते हैं। उन्होंने कहा कि आर्यावर्त बैंक अपने के0सी0सी0 धारक का रजिस्ट्रेशन स्वयं करती है और पैसा सीधे किसानों के खाते में जाता है। यह कार्य प्रशंसनीय है। 
विधायी एवं न्याय मंत्री ने कहा कि आर्यावर्त बैंक/समस्त क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक सरकारी क्षेत्र के बैंक हैं, जो कि वर्ष 2008-09 में आई विश्व की आर्थिक मंदी में अपने संगठनों के कारण ही भारत उस मंदी के प्रभाव से बचा रहा है। उन्होंने कहा कि आर्यावर्त बैंक ने वर्ष 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री के संकल्प को 2020 में न केवल फैसला लिया है, बल्कि उस दिशा में बैंक काफी आगे भी बढ़ गयी है। उन्होंने कहा कि बैंक कर्मियों की जो भी समस्याएं हैं उनके समाधान का प्रयास कराया जायेगा। 
इस अवसर पर आर्यावर्त बैंक के जनरल सेक्रेटरी आॅल इण्डिया बैंक आॅफिसर्स सौम्या दत्ता, चेयरमैन, आर्यावर्त बैंक एस0बी0 सिंह, जनरल सेक्रेटरी आॅल इण्डिया आर0आर0बी0 आॅफिसर्स फेडरेशन श्रीजन पाल, स्टेट प्रेसीडेंट ए0आई0बी0ओ0सी0 यूपी एण्ड उत्तराखण्ड पवन कुमार, स्टेट सेक्रेटरी ए0आई0बी0ओ0सी0 यूपी एण्ड उत्तराखण्ड दिलीप चैहान, जनरल सेक्रेटरी आॅल इण्डिया आर0आर0बी0पी0 पेंशनर्स फेडरेशन बी0पी0 सिंह, सहित बैंकों के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे। - अजय द्विवेदी