डा0 जैकब ने अनियमित रूप से परिवहन करने वालों के विरूद्ध सम्बंधित जिलाधिकारियों को दिये कार्यवाही के निर्देश

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
लखनऊ 01 जनवरी। भूतत्व एवं खनिजकर्म निदेशक, डा0 रोशन जैकब ने बताया कि 30 एवं 31 दिसम्बर, 2019 को विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ रात्रि में विभिन्न जनपदों से उप खनिज का परिवहन करने वाले वाहनों की आकस्मिक जांच पुलिस चैकी घुरघुरी तालाब, थाना काकोरी तथा पुलिस थाना-बंथरा जनपद-लखनऊ में की गयी, जिसमें कुल 20 वाहन गिट्टी/ मोरम के पाये गये। इसमें मोरम के 06 वाहन, जिनके परिवहन प्रपत्र की वैधता समाप्त है, मोरम के 01 वाहन मे परिवहन प्रपत्र में अकिंत मात्रा से अधिक मात्रा, 12 वाहन मोरम भरे तथा 01 गिट्टी भरा बिना परिवहन प्रपत्र के पाया गया, जिन्हें सम्बन्धित थानों की सुपुर्दगी में सौंपा गया। औचक निरीक्षण से स्पष्ट होता है कि उपखनिज बालू/ मोरम/ गिट्टी के जनपदों यथा-हमीरपुर, जालौन, बांदा, महोबा, व झांसी के पट्टाधारकांे द्वारा खनन पट्टा शर्तो का उल्लंघन करते हुए बालू/ मोरम व गिट्टी का अवैध खनन कर परिवहन कराया जा रहा है। 
डा0 जैकब ने बताया कि अवैध खनन/परिवहन की सघन जाँच करते हुए सम्बन्धितों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। यह तथ्य भी  संज्ञान में आया है कि बालू/मोरम के पट्टाधारकों द्वारा खनिज निकासी क लिये एक से अधिक मार्ग बनाकर परिवहन का कार्य किया  जा रहा है।  उन्होंने बताया कि जांच कर यह सुनिश्चित कराया जायेगा कि खान मंे प्रवेश व निकासी का  मार्ग  एकल मार्ग रहे। यदि किसी पट्टाधारक द्वारा एक से अधिक निकासी मार्ग बनाकर परिवहन किया जाता है तो ऐसे पट्टाधारकों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी जायेगी। 
डा0 जैकब ने बताया कि अवैध रूप से उपखनिजों का परिवहन करने वालों के विरूद्ध  आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित किये जाने के निर्देश जिलाधिकारी हमीरपुर, जालौन, बांदा, महोबा व झांसी को दिये गये हैं।- आशिया खातुन