औद्यानिक विकास की योजनाओं का लाभ पारदर्शी रुप में किसानों को उपलब्ध कराने की व्यवस्था-श्रीराम चैहान
- किसान सेवा योजना के नाम से वेब पोर्टल पर किसान कर सकते हैं आॅनलाइन पंजीकरण-उद्यान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

 

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार, कृषि निर्यात राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री श्रीराम चैहान ने कहा है कि औद्यानिक विकास की योजनाओं का लाभ पारदर्शी रुप में किसानों को उपलब्ध कराने की व्यवस्था उद्यान विभाग द्वारा की जा रही है। इसके लिए किसान सेवा योजना के नाम से वेब पोर्टल ूूूण्नचंहतपबनसजनतमण्बवउ पर आॅनलाइन पंजीकरण अब किसान कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि पंजीकरण की कार्रवाई पूर्ण करते हुए प्रथम आवक-प्रथम पावक के आधार पर लाभार्थियों के चयन का कार्य बागवानी योजना का लाभ देने के लिए किया जायेगा।

श्री चैहान ने कहा है कि प्रदेश में बागवानी विकास की प्रचुर संभावनाएं हैं इस हेतु प्रदेश के 45 जनपदों में एकीकृत बागवानी विकास मिशन तथा शेष 30 जनपदों में इसी पैटर्न पर राष्ट्रीयकृत विकास योजना संचालित की गयी है। इन योजनाओं के कार्यान्वयन के  फलस्वरूप प्रदेश के बागवानी विकास में महत्वपूर्ण उपलब्धियां अर्जित करने का लक्ष्य रखा गया है इसमें मुख्य रुप से आम, अमरूद, आंवला, केला, नीबू वर्गीय फल, बेल आदि के क्षेत्र और विकसित किये जा रहे हैं जो किसानों की आय दोगुनी करने के अभियान में सार्थक सिद्ध होंगे। 

उद्यान राज्य मंत्री नेे कहा कि भूजल संचलन एवं गुणवत्तायुक्त उत्पादन के उद्देश्य से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के उपघटक पर ड्राॅप मोर क्राॅप-माइक्रोएरिगेशन के तहत ड्रीप एवं स्प्रिंकलर सिंचाई को बढ़ावा देने पर भी बल दिया जा रहा है ताकि किसान इस माध्यम से सिंचाई का कार्य उचित ढंग से कर सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसानों के मध्य स्पिं्रकलर सिंचाई की ग्राह्यता बढ़ाने, जल संचयन एवं गुणवत्तायुक्त उत्पादन को प्रोत्साहन देने हेतु लघु एवं सीमांत किसानों को इकाई लागत के सापेक्ष 90 प्रतिशत तथा अन्य किसानों को 80 प्रतिशत अनुदान दिये जाने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इच्छुक किसानों को अब तक 26686 हेक्टे0 क्षेत्र में ड्रीप/स्प्रिंकलर सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। 

श्री चैहान ने कहा कि प्रदेश में एकीकृत बागवानी मिशन के अन्तर्गत आॅफ सीजन हाई वैल्यू सब्जी एवं पुष्प उत्पादन को प्रोत्साहन देने हेतु ग्रीन हाउस एवं सेडनेट हाउस का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। इसके तहत अब तक 163 हेक्टे0 क्षेत्र में सेडनेट हाउस स्थापना का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार किसानों द्वारा उच्च गुणवत्तायुक्त सब्जियां एवं फूलों आदि का उत्पादन कर किसानों को अधिक आय एवं रोजगार के अवसर प्राप्त हो रहे हैं। - अजय द्विवेदी