उत्तर प्रदेशमिड-डे-मील योजना का प्रत्येक स्तर पर वृह्द अनुश्रवण किये जाने के दिए निर्देश - डा0 सतीश चन्द्र द्विवेदी

- डी0टी0एफ0 एवं बी0टी0एफ0 की मासिक समीक्षा बैठक भी नियमित रूप से करायी जाय- डा0 सतीश चन्द्र द्विवेदी
वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा 
लखनऊ 11 दिसम्बर।प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा0 सतीश चन्द्र द्विवेदी की अध्यक्षता में एस0सी0ई0आर0टी0, निशातगंज, लखनऊ के सभागार में मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत प्रदेश के समस्त जिला समन्वयक, एम0डी0एम0 की बैठक की गयी। बैठक में मंत्री डा0 द्विवेदी ने मिड-डे-मील योजना को प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजना बताते हुए सभी को निर्देशित किया कि योजना के सुव्यवस्थित संचालन हेतु यह अत्यन्त आवश्यक है कि योजना का प्रत्येक स्तर पर वृह्द अनुश्रवण किया जाना चाहिए। उन्होंने जनपद स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित जिला टास्क फोर्स (डी0टी0एफ0) तथा विकास खण्ड स्तर पर उप जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित ब्लाक टास्क फोर्स (बी0टी0एफ0) द्वारा किये जा रहे निरीक्षणों को भली-भाॅति प्रेरणा प्रणाली पर अपलोड किये जाने के निर्देश दिए। साथ ही डी0टी0एफ0 एवं बी0टी0एफ0 की मासिक समीक्षा बैठक भी नियमित रूप से करायी जाय। निरीक्षण में पायी गयी कमियों का निराकरण करते हुए योजना को सुचारू रूप से संचालित किया जाय।डा0 द्विवेदी ने जनपदों से आये समन्वयकों को निर्देशित किया कि मण्डल स्तर पर गठित उड़न दस्ते द्वारा किये जा रहे निरीक्षणों में इंगित कमियों पर त्वरित कार्यवाही कर उन्हें दूर किया जाय। बैठक में जिला समन्वयक, हरदोई द्वारा अवगत कराया गया कि प्रत्येक माह के 05 तारीख को योजना के अनुश्रवण हेतु गठित ''माॅ समूह'' के सदस्यों को विद्यालय पर बुलाया जाता है और उन्हें जागरूक किया जाता है।


    मंत्री ने इस पहल की प्रशंसा करते हुए प्रदेश के समस्त जनपदों को भी इसी प्रकार से प्रत्येक माह कोई तिथि निर्धारित कर ''माॅ समूह'' को विद्यालय पर बुलाकर जागरूक किये जाने के निर्देश दिये। विद्यालयों पर गठित विद्यालय प्रबन्ध समिति (एस0एम0सी0) की नियमित बैठके कराये जाने हेतु निर्देशित किया। बैठक में जनपदों से आये समस्त समन्वयकों द्वारा मंत्री जी से अनुरोध किया गया कि मीनू में दिये जा रहे दूध के स्थान पर अन्य विकल्प पर विचार किया जाय। जिस पर मंत्री जी द्वारा दूध के स्थान पर अन्य विकल्प पर विचार करने हेतु कहा गया। बैठक में रसोईयों की कार्य कुशलता को बढ़ाने के दृष्टिगत ब्लाक स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम एवं कुक प्रतियोगिता आयोजन के संबंध में चर्चा की गयी। साथ ही विद्यालयों में किचेन गाॅर्डन और आदर्श किचेन व्यवस्थित किये जाने के संबंध में भी मंत्री जी को अवगत कराया गया। मंत्री डा0 द्विवेदी ने निर्देशित किया कि प्रत्येक विद्यालय में बच्चों को आत्मसम्मान पूर्वक भोजन ग्रहण कराने हेतु डाइनिंग शेड बनवाये जायें। इस हेतु विधायक निधि में बजट प्राविधान कराये जाने हेतु सक्षम स्तर से अनुरोध किये जाने का आश्वासन दिया।महानिदेशक, बेसिक शिक्षा श्री विजय किरन आनन्द ने बताया कि विभाग में संचालित योजनाओं को जन-जन तक पहंुचाने के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार की कार्ययोजना तैयार की गयी है। जनवरी, 2020 से प्रदेश के समस्त जनपदों में एल0ई0डी0 वैन, नुक्कड़ नाटक एवं होर्डिंग प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रानिक मीडिया, आॅडियो वीडियो, एफ0एम0 रेडियो आदि के माध्यम से विद्यालय, कस्बो, ब्लाक, जनपद एवं मण्डल मुख्यालय में योजनाओं का प्रचार-प्रसार अभियान के रूप में आरम्भ किया जायेगा। बैठक में निदेशक, मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण एवं प्राधिकरण के अधिकारी तथा जिला समन्वयक, एम0डी0एम0 सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। - सतीश चन्द्र भारती