राष्ट्रहित में नागरिकता संषोधन अधिनियम वापस लिया जाय : लोकदल


वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा


लखनऊ 19 दिसम्बर। राष्ट्रीय लोकदल द्वारा आज महामहिम राष्ट्रपति महोदय को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से सौंपा गया। ज्ञापन में रालोद पदाधिकारियों द्वारा कहा गया कि संसद में पारित नागरिकता संषोधन विधेयक पर आपके हस्ताक्षर के फलस्वरूप रूपान्तरित नागरिकता संषोधन अधिनियम लागू होने के पष्चात देष के लगभग सभी राज्यों में कानून व्यवस्था की स्थिति सोचनीय हो गयी है। साथ ही साथ देश का नवयुवक एक विद्यार्थी विषेश रूप से उद्वेलित है। परिणाम स्वरूप राजकीय सम्पत्ति का नुकसान हो रहा है तथा अनेको प्रकार से राजकीय कार्य बाधित हो रहे हैं। 
रालोद पदाधिकारियों द्वारा राष्ट्रपति महोदय से ज्ञापन में मांग की गयी कि राष्ट्रहित में नागरिकता संषोधन अधिनियम वापस लिया जाय जिससे देष के विकास का मार्ग बाधित होने से बचाया जा सके। 
ज्ञापन देने वालों में वसीम हैदर, संतोष यादव, किरन सिंह, चन्द्रकांत अवस्थी, रमावती तिवारी, सुमित सिंह, प्रमोद शुक्ला, अखिलेष आदि लोग मौजूद रहे।