मुख्यमंत्री ने भारतीय पुलिस सेवा के 15 परिवीक्षाधीन अधिकारियों ने भेंट कर कहा पुलिस अधिकारी जनता के साथ मधुर व्यवहार करें


वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा   
लखनऊ 20 दिसंबर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आज यहां उनके सरकारी आवास पर भारतीय पुलिस सेवा के वर्ष 2018 बैच के 15 परिवीक्षाधीन अधिकारियों ने भेंट की। मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर परिवीक्षाधीन अधिकारियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। ज्ञातव्य है कि इन अधिकारियों को यू0पी0 कैडर अलाॅट हुआ है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता से संवाद स्थापित करने की क्षमता अधिकारियों को सफल बनाती है। संवाद से बड़ी से बड़ी चुनौतियों का सामना किया जा सकता है। जनता के साथ पुलिस का व्यवहार अत्यन्त महत्वपूर्ण है, क्योंकि पुलिस और जनता का आमना-सामना निरन्तर होता रहता है। उन्होंने सभी परिवीक्षाधीन अधिकारियों को जनता के साथ मधुर व्यवहार करने की सलाह दी। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अब इन अधिकारियों का कैरियर शुरू हो रहा है और उन्हें 30-35 साल नौकरी करनी है। इसलिए उन्हें अपनी कार्यप्रणाली और क्षमताओं पर ठीक से फोकस करना होगा। नौकरी के प्रथम 05 वर्ष इन अधिकारियों के कैरियर के लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण होंगे और उसकी दिशा तय करेंगे। इसलिए उन्हें अपनी सत्यनिष्ठा हर हाल में बनाये रखनी चाहिए। पुलिस की वर्दी पहनने के बाद उन्हें भारतीय संविधान के प्रति अपनी जिम्मेदारी भलीभांति निभानी होगी और पीड़ित लोगों के साथ न्याय करना होगा। मुख्यमंत्री ने कानून को समझते हुए उसके सही अनुपालन की भी सलाह दी। उन्होंने सभी प्रशिक्षु आई0पी0एस0 अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद स्थापित करने के अलावा अच्छा व्यवहार करने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था के प्रभावी क्रियान्वयन में इन अधिकारियों की विशेष भूमिका होगी। इसलिए वे सजग रहते हुए अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें और जनहित में शासन द्वारा लागू आदेशों का अनुपालन भी सुनिश्चित करें। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि इन प्रशिक्षु आई0पी0एस0 अधिकारियों को अपने कैरियर के दौरान अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा, जिनके प्रभावी समाधान के लिए उन्हें हमेशा तैयार रहना होगा। उन्होंने कहा कि सावधानी, ईमानदारी और प्रतिबद्धता उन्हें इन चुनौतियों से निपटने में बहुत मदद करेंगी। इनके माध्यम से आउटस्टैण्डिंग आॅफिसर्स विपरीत परिस्थितियों में भी बेहतरीन काम करते हैं। उन्होंने अपेक्षा की कि यह अधिकारी पुलिस फोर्स को प्रभावी नेतृत्व प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी चुनौती के दौरान भ्रम से हमेशा बचें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश पुलिस के आधुनिकीकरण के लिए अथक प्रयास किए जा रहे हैं। यू0पी0 पुलिस देश का सबसे बड़ा बल है। राज्य सरकार ने विगत ढाई वर्षों के दौरान 80 हजार भर्तियां की हैं। भर्ती किए गए पुलिस कर्मियों को उत्कृष्ट प्रशिक्षण दिया जा रहा है, क्योंकि प्रशिक्षण के बगैर प्रभावी पुलिसिंग सम्भव नहीं है। राज्य सरकार ने प्रदेश में पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण देने के लिए प्रशिक्षण क्षमता को लगभग दोगुना किया है। प्रशिक्षण के दौरान की गई मेहनत आगे बहुत काम आती है। गृह विभाग के बजट में वृद्धि की गई है।