क्रीड़ा छात्रावासों में रहने वाले खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए विभिन्न मदों की दरों में वृद्धि

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 12 दिसम्बर। उत्तर प्रदेश सरकार ने खेल निदेशालय के अंतर्गत आवासीय छात्रावास के खिलाड़ियों के कुशल प्रशिक्षण हेतु उनकी शिक्षा, किट, चिकित्सा, फर्नीचर, प्रतियोगिता में भाग लेने पर व्यय एवं उपकरण आदि के व्यय में निर्धारित मानक दरों में वृद्धि की है। यह वृद्धि आवासीय क्रीड़ा छात्रावासों में आवासरत बालक/बालिकाओं पर वर्ष 2019 में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के अनुसार स्वीकृत वृद्धि के आधार पर की गई है।
खेल विभाग के अपर मुख्य सचिव मो0 इफ्तेखारूद्दीन द्वारा इस संबंध में आवश्यक आदेश जारी कर दिए गए हैं। आदेशानुसार वर्तमान में शिक्षा पर निर्धारित धनराशि 
50 रुपये प्रतिमाह प्रतिखिलाड़ी, (600 रुपये प्रतिवर्ष) के स्थान पर 250 रुपये प्रतिमाह, प्रति खिलाड़ी (3000 रुपये प्रतिवर्ष) की वृद्धि की गई है। इसी प्रकार किट पर 2500 रु0 प्रतिखिलाड़ी प्रतिवर्ष के स्थान पर 5000 रुपये प्रतिवर्ष, चिकित्सा पर 1000 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष के स्थान पर 2000 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष, फर्नीचर पर 300 रुपये के स्थान पर 1500 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष, प्रतियोगिता में भाग लेने पर 300 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष के स्थान पर 1500 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष तथा उपकरण आदि पर 1500 रुपये प्रति खिलाड़ी के स्थान पर 6000 रुपये प्रति खिलाड़ी प्रतिवर्ष की वृद्धि की गई है।- निधि वर्मा